11. डॉ हरेश्वर राय जी के दुगो कबिता (16, 17) - माईभाखा कहानी लेखन प्रतियोगिता

आँखिन के अम्बर में, बाझ मेड़राता
छातिन के धरती , रेगनी फुलाता 

गऊआं के पाकड़ , बइठल बा गीध
मुसकिल मनावल बा, होली ईद 

खेतन में एह साल, फुटि गइल भुआ
सहुआ दुअरिये , बइठल बा मुआ

अदहन के पानी में, जहर घोराइल बा
साँस लेल मुसकिल बा, हावा ओराइल बा

जीवन के डेंगी में, भइल बा भकन्दर
लागता कि डूबी , बीचे समन्दर

चूर भइल सपना, भाग भइल घूर
रोपतानी आम , उगता बबूर

मू गइले बाबूजी, भइल ना दवाई
माई के पिनसिन , होता लड़ाई

बुचिया के आँखि में, माड़ा फुलाइल बा
मेहरि के ठेहुन के, तेल ओरियाइल बा

बउआ हरेसवर जी, का का बताईं।
चारु ओरे फाटल बा का का सियाईं॥

****************

2. भजो रे मन हरे हरे
नियरे बा फेन से चुनाव
भजो रे मन हरे हरे
कौअन के होइ काँव काँव
भजो रे मन हरे हरे

पाँच साल पर साजन अइहें
गेंदा फूल गले लटकैहें।
चारु ओरे होइ तनाव
भजो रे मन हरे हरे

हाँथ जोरि के मुँह बनइहें
आपन पनही अपने खइहें।
चलिहें गजब के दाव
भजो रे मन हरे हरे

मुँह उठवले भटकत मिलिहें
हर दर माथा पटकत मिलिहें
छुअत चलिहें मुँह पाँव
भजो रे मन हरे हरे

बालम वादा बाँटत फिरिहें
थूकत फिरिहें चाटत फिरिहें
पउआ बँटाई हर गाँव
भजो रे मन हरे हरे

जीतिहें जइहें फेर ना अइहें
लुटिहें कुटिहें पिहें खइहें।
पूछिहें कब्बो ना नाँव गाँव
भजो रे मन हरे हरे

होखल जरूरी बा इनकर दवाई
एहिमें बड़ुए सभकर भलाई
दिहल जरुरी बा घाव
भजो रे मन हरे हरे

*****************





परिचय- 
डॉ. हरेश्वर राय
प्रोफेसर ऑफ़ इंग्लिश, शासकीय पी.जी. महाविद्यालय सतना, मध्यप्रदेश
पत्राचार का पताः पांचजन्य, बी-37, सिटी होम्स कालोनी, जवाहरनगर सतना, मध्यप्रदेश 485001
फोन .- 09425887079, ईमेल: royhareshwarroy@gmail.com

1. नाम-       डॉ. हरेश्वर राय
2. पदनाम-     प्रोफेसर ऑफ़ इंग्लिश
3. पदस्थापनाशासकीय स्वशासी स्नातकोत्तर महाविद्यालय सतना, .प्र. पिन- 485001
4. जन्म तिथि-  03 सितम्बर 1964
5. स्थायी पताग्राम+पोस्ट - जमुआंव, थाना - पीरो, जिला भोजपुर (आरा), बिहार
6. वर्तमान पता- पांचजन्य, बी-37, सिटी होम्स कालोनी, जवाहरनगर सतना, मध्यप्रदेश 485001
7. पत्राचार का पता- पांचजन्य, बी-37, सिटी होम्स कालोनी,जवाहरनगर सतना, मध्यप्रदेश 485001
8. फोन नं.     9425887079
9. ईमेल:       royhareshwarroy@gmail.com
10. प्रसारण:    आकाशवाणी रीवा, .प्र. द्वारा कविता एवं आलेखों का प्रसारण।
11. प्रकाशनः    प्रतिष्ठित भोजपुरी पत्र-पत्रिकाओं, हिन्दी पत्रिकाओं, बालपत्रिकाओं एवं समाचारपत्रों में 100 से अधिक कहानियों, कविताओं एवं आलेखों का प्रकाशन।
भोजपुरी पत्र-पत्रिका: भोजपुरी साहित्य सरिता, भोजपुरी पंचायत, आखर में कविताओं का प्रकाशन.
हिंदी पत्र-पत्रिकाः  सरिता, सरस सलिल, रसमुग्धा, राष्ट्र्वीणा, भारतवाणी, चित्रोत्पला, साहित्य संगम, मंदाकिनी, स्टूडेंट एक्शन आदि में कविताओं एवं आलेखों का प्रकाशन।
हिंदी बालपत्रिकाः बालहंस, देवपुत्र, बालमितान आदि में कहानियों, कविताओं एवं आलेखों का प्रकाशन।
हिंदी समाचार-पत्र: दैनिक भास्कर, रसरंग, नवरंग, हिन्दुस्तान, दैनिक ट्र्ब्यिून, नई दुनिया, नवभारत, सुरूचि, देशबन्धु, सुरभि, लोकमत समाचार, रूद्रावतार, जनशक्ति, अमृत संदेश, समवेत शिखर आदि में कहानियों, कविताओं एवं आलेखों का प्रकाशन।
पुस्तक:        आप्रवासी संप्रेषण पर पैसिफिक पब्लिकेशन दिल्ली से अंग्रजी में एक पुस्तक प्रकाशित।
नोटः          प्रतिष्ठित अंगे्रजी पत्रिकाओं एवं शोध पत्रिकाओं में ४० अधिक आर्टिकल्स एवं शोधपत्रों का प्रकाशन।
************ 

टिप्पणियाँ

  1. जय हो जय हो ! राय जी ! चुनाव के मौसम नियराइल बा !अकदम जोरदार प्रहार खातिर राउर के साधुवाद !

    उत्तर देंहटाएं
  2. दूनों कविता अपना अपना रस में आ अपना अपना जगह पर ठीक बाड़ीन सँ, कलम सधल बिया |

    उत्तर देंहटाएं
  3. ई ब्लॉग केकर ह, अउरी रचना नजर आवताड़ीन सँ

    उत्तर देंहटाएं
  4. ई ब्लॉग केकर ह, अउरी रचना नजर आवताड़ीन सँ

    उत्तर देंहटाएं
  5. दूनों कविता अपना अपना रस में आ अपना अपना जगह पर ठीक बाड़ीन सँ, कलम सधल बिया |

    उत्तर देंहटाएं

एक टिप्पणी भेजें

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

47. श्री आशुतोष पाण्डेय उर्फ आशु बाबा जी के 2गो कबिता (गीत) (93, 94) - माईभाखा कबितई प्रतियोगिता

माईभाखा कबितई प्रतियोगिता – 2017 के परिनाम घोसित

भोजपुरिया बीर-बाकुड़ा नमन पहल-प्रतियोगिता